Home Politics हुगली में बोले पीएम मोदी-जब तक सिंडिकेट, टोलाबाजों का शासन रहेगा, बंगाल...

हुगली में बोले पीएम मोदी-जब तक सिंडिकेट, टोलाबाजों का शासन रहेगा, बंगाल का विकास तब तक संभव है

डिजिटल डेस्क, कलकत्ता। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को पश्चिम बंगाल के हुगली में जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान टीएमसी पर हमला बोलते हुए पीएम ने कहा कि बंगाल ने परिवर्तन का मन बना लिया है। बंगाल में भाजपा की सरकार बनीगी तो हर बंगाल वासी अपनी संस्कृति का गौरवगान कर सकेगा। बता दें कि पश्चिम बंगाल में अप्रैल-मई के महीने में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में एक महीने के भीतर पीएम मोदी का यह तीसरा बंगाल दौरा है।

ऐतिहासिक क्षेत्र को अपने ही हाल में छोड़ दिया गया
पीएम ने कहा कि जैसा भी सरकारें पश्चिम बंगाल में बनी रहीं, उन्होंने इस ऐतिहासिक क्षेत्र को अपने ही हाल में छोड़ दिया। यहां के इन्फ्रास्ट्रक्चर को, यहां की धरोहर को अनल होने दिया गया। वंदे मातरम भवन जहां बंकिमचंद जी 5 साल रहे, कहते हैं कि वे तो बहुत बुरे हाल में हैं। उन्होंने कहा कि मां माटी मानुष की बात करने वाले लोग बंगाल के विकास के सामने दीवार बनकर खड़े हो गए हैं। टोलेबाजों ने प्रदेश का विकास रोक रखा है। पीएम मोदी ने टीएमसी पर निशाना साधते हुए कहा कि सत्ताधारी पार्टी के नेताओं की शान-ओ-शौकत बढ़ती जा रही है।

जब तक टॉलर्सन का शासन, बंगाल का विकास तब तक संभव नहीं है
पीएम ने कहा, ‘बंगाल का विकास तब तक संभव नहीं है जब तक यहां सिंडिकेट, टोलाबाजों का शासन बना रहेगा। बंगाल का विकास तब तक संभव नहीं है जब तक यहां कट कल्चर रहेगा, जब तक कानून का राज बंगाल में स्थापित नहीं होता है। ‘ पीएम ने कहा कि आज के पश्चिम बंगाल में धार पर बोली भी होगी तो उसमें भी कटौती का विचार है। ये ऐसी बदमाशी कर रहे हैं कि दोनों तरफ से कटौती करते हैं। बिना सिंडिकेट की इजाजत के किराए पर साझेदारी भी नहीं ले सकती। बंगाल में निवेश के लिए उत्साह की कमी नहीं है, परेशानी है तो सरकार ने कट का जो कल्चर बनाया है, सिंडिकेट के हवाले बंगाल कर दिया है, उसी के करण ये माहौल बिगड़ता गया है।

बंगाल का विकास तब तक संभव नहीं है, जबतक शासन गुंडों को आश्रय देगा
पीएम ने कहा, बंगाल का विकास तब तक संभव नहीं है, जबतक शासन-प्रशासन गुंडों को आश्रय देगा। बंगाल का विकास तब तक संभव नहीं है, जब तक कानून का राज प। बंगाल में स्थापित नहीं होता है। ये तब तक संभव नहीं है, जबतक पश्चिम बंगाल के सामान्य जन की सुनवाई करने वाली सरकार यहां नहीं बनती। पीएम ने कहा, बंगाल में निवेश के लिए उत्साह की कमी नहीं है, परेशानी है तो सरकार ने जो कट, कट का जो कल्चर बनाया है, सिंडिकेट के हवाले बंगाल कर दिया है। उसी के करन ये माहौल बिगड़ता गया है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments